नई दिल्ली/ केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के दौरान सरकारी कर्मचारियों और पेंशनधारियों की रोकी गईं महंगाई भत्‍ते की तीनों किस्‍तों का जल्‍द भुगतान करने का फैसला लिया है. वित्त मंत्रालय ने मंगलवार को भरोसा दिलाया कि सरकारी कर्मचारियों और पेंशनधारियों की रोकी गईं तीनों किस्‍तों को जल्‍द से जल्‍द फैसला लेकर जल्द भुगतान किया जाएगा. साथ ही बताया कि उन्‍हें 1 जुलाई 2021 से लागू होने वाली दरों पर किस्‍तों का भुगतान किया जाएगा.

दरअसल बीते साल कोरोना महामारी को देखते हुए. केंद्र सरकार ने कर्मचारियों के लिए डीए और पेंशनधारियों के लिए डीआर की बढ़ी हुई किस्तें रोक दी थी. जिससे सरकार को साल 2020 में सरकार को 37,430.08 करोड़ रुपए बचाने में मदद मिली. बता दें कि 1 जनवरी 2020 से 1 जुलाई 2020 और 1जनवरी 2021 से केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनधारियों को महंगाई भत्ते और महंगाई राहत की तीन किस्तों को कोरोनोवायरस महामारी के वजह से रोके गए थे.

बता दें कि वित्‍त मंत्रालय ने कोरोना महामारी को देखते हुए अप्रैल 2020 में केंद्र सरकार के 50 लाख कर्मचारियों और 61 लाख पेंशनभोगियों के महंगाई भत्‍ते में जुलाई 2021 तक किसी भी तरह की बढ़ोतरी पर रोक लगाने का फैसला लिया था. वित्‍त मंत्रालय ने एक मेमो में कहा था कि कोविड-19 के मद्देनजर 1 जनवरी 2020 से केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्‍ता और पेंशनभोगियों के महंगाई राहत के अतिरिक्‍त किस्‍त का भुगतान नहीं किया जाएगा. तो वहीं 1 जुलाई 2020 और 1 जनवरी 2021 किस्‍तों का भुगतान भी नहीं किया जाएगा. हालांकि, मौजूदा दरों पर डीए और डीआर का भुगतान जारी रहेगा.

Airasia Mocking FSSAI Guidelines: एयर एशिया सरेआम उड़ा रहा FSSAI नियमों की धज्जियां, परोस रहा बिना लेबलिंग-डिस्पले वाला पैक खाना

Uttarakhand Assembly Elections: धन सिंह रावत होंगे उत्तराखंड के नए सीएम, पुष्कर सिंह धामी होंगे डिप्टी सीएम- सूत्र

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर