बेंगलुरु. बेंगलुरु के रहने वाले एक आठ साल के बच्चे ने प्रधानमंत्री कार्यालय को बेंगलुरु के एक इलाके में रुके निर्माण कार्य से आ रही दिक्कतों को लेकर एक पत्र लिखा है. बच्चे की सबसे बड़ी शिकायत ये है कि 3 किमी दूर स्कूल जाने में उसे रोज 45 मिनट लग जाते हैं.
 
बच्चे ने मेल के जरिए पीएमओ से कहा कि काम की लेट-लतीफी के कारण उसे अपने घर से तीन किमी दूर यशवंतपुर स्थित स्कूल तक पहुंचने में 45 मिनट लगते हैं, जिसके कारण पढ़ाई खराब हो रही है. वहां सामान पड़े होने के कारण लोगों को भी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है.
 
टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार, गोरागुंट्येपाल्या जंक्शन के पास बाहरी रिंग रोड पर एक रेलवे क्रॉसिंग के ऊपर बन रहे फ्लाईओवर के निर्माण की वजह से कई निर्माण सामग्रियां रास्ते पर पड़ी रहती हैं. इसकी वजह से लोगों के हेल्थ और अपनी स्टडी को लेकर अभिनव ने पीएमओ का ध्यान खींचा.
 
अब इस छोटे से बच्चे के पत्र पर कदम उठाते हुए पीएमओ कार्यालय ने रेलवे विभाग से अधूरे निर्माण कार्य पर जवाब मांगा है और जल्द से जल्द समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए है.