पटना. एक स्टिंग ऑपरेशन में पैसा लेते कैद हुए राज्य के शहरी विकास मंत्री अवधेश प्रसाद कुशवाहा पर रविवार देर रात आखिरकार गाज गिर गई. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कुशवाहा से मंत्री पद से इस्तीफा मांग लिया. यह स्टिंग यू-ट्यूब और सोशल मीडिया में वायरल हो गया है. 
 
जनता दल (युनाइटेड) के अध्यक्ष शरद यादव ने पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि स्टिंग के सामने आने के बाद कुशवाहा से मंत्री पद से इस्तीफा ले लिया गया है. उन्होंने कहा कि पार्टी पिपरा विधानसभा क्षेत्र से अब दूसरा उम्मीदवार उतारेगी. कुशवाहा को एक स्टिंग ऑपरेशन में मुंबई के एक कथित व्यवसायी से चार लाख रुपये लेते दिखाया गया था. स्टिंग में इस बात का जिक्र है कि यह पैसा सरकार बनने पर कथित व्यवसायी को बिहार में करोबार करने में मदद पहुंचाने के लिए लिया गया था.
 
कुशवाहा हालांकि इस आरोप से इंकार कर रहे हैं परंतु जनता दल (युनाइटेड) ने इस स्टिंग को गंभीरता से लिया. स्टिंग में पैसा लेने के बाबत कुशवाहा कहते हैं कि उन्होंने कोई पैसा नहीं लिया है. वे मानहानि का मुकदमा करेंगे. इस स्टिंग में राष्ट्रीय जनता दल के घोसी प्रत्याशी कृष्णनंदन वर्मा और मखदुमपुर प्रत्याशी सूबेदार सिंह को पैसे लेते दिखाया गया हैं. कुशवाहा को जेडीयू ने पिपरा विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी घोषित किया था.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App