हैदराबाद. मजलिस इत्तेहादुल मुसलमी के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने उनकी जैसी तस्वीर ट्विटर पर डाली है, उससे मुसलमानों का अपमान हुआ है. दिग्विजय ने ट्विटर पर तस्वीर डाली है जिसका आधा चेहरा आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत का और आधा चेहरा असदुद्दीन ओवैसी का है.
 
 
ओवैसी ने कहा कि कांग्रेस नेता ने एक दाढ़ी और टोपी वाले इंसान का चेहरा आरएसएस नेता के चेहरे के साथ लगाकर सभी मुसलमानों का अपमान किया है. दिग्विजय ने तस्वीर के साथ ट्वीट किया है, “धार्मिक उन्माद के दो चेहरे जो देश के सामाजिक ताने-बाने को तबाह कर रहे हैं.” दिग्विजय का कहना है कि यह तस्वीर उन्हें उनके एक दोस्त ने भेजी थी. ओवैसी ने कांग्रेस महासचिव के इस काम को सांप्रदायिक करार दिया है.
 
 
 
उन्होंने कहा, “मेरी तस्वीर का कोई महत्व नहीं है. लेकिन, अपने इस काम से आप मुसलमानों का अपमान कर रहे है. ओवैसी ने यह भी जानना चाहा कि कांग्रेस राज में हुए तमाम दंगों की वजह से क्या सामाजिक ताना-बाना नहीं टूटा था. उन्होंने पूछा, “क्या वह आपकी (दिग्विजय सिंह की) पार्टी नहीं थी जिसके राज में भागलपुर और असम में मुसलमानों का संहार हुआ था? और, तब जब बाबरी मस्जिद में मूर्ति रखी गई थी? तब जब मस्जिद का ताला खोला गया था और जब मस्जिद तोड़ी गई थी?” ओवैसी ने कहा कि एमआईएम अकेली ऐसी पार्टी है जो तेलंगाना और देश के अन्य हिस्सों में भाजपा और आरएसएस से मोर्चा ले रही है. उन्होंने कहा, “आप (दिग्विजय सिंह) अपने बच्चों की शादी में नरेंद्र मोदी को बुलाते हैं। उसकी तस्वीर भी तो पोस्ट करिये।”
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App