नई दिल्ली. दिल्‍ली हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस एपी शाह ने संसद हमले के दोषी अफजल गुरु और 1993 मुंबई सीरियल ब्‍लास्‍ट में दोषी याकूब की फांसी पर सवाल उठाए हैं. शाह ने न्‍यूज चैनल सीएनएन-आईबीएन को दिए इंटरव्यू में कहा कि अफजल गुरु और 1993 मुंबई सीरियल ब्‍लास्‍ट में दोषी याकूब मेमन की फांसी राजनीति से प्रेरित थी. उन्होंने कहा कि जज पर भी राजनीतिक वास्‍तविकताओं का असर पड़ता है.
 
शाह ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से भी कहा कि संसद हमले के अभियुक्त अफजल गुरु को अचानक और गोपनीय तरीके से फांसी देना सरकार की गलती है. शाह ने कहा कि उन्हें नहीं समझ आ रहा है कि आखिर अफजल को गोपनीय तरीके से फांसी क्यों दी गई? शाह ने कहा कि यह कमजोरी का संकेत था और कश्मीर मुद्दे के सुलझाने की कोशिशों को भी गहरा धक्का था. शाह ने कहा कि पद पर रहने के कारण वह इस मुद्दे पर बोलने से बचता रहे हैं लेकिन अब वह आजादी से बोल सकते हैं. दिल्ली हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस ए पी शाह ने लॉ कमीशन को अपनी फांसी वाली रिपोर्ट सौंपने के बाद चेयरमेन पद से इस्तीफा दे दिया था.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App