नई दिल्ली. नगरपालिका द्वारा आज जारी की गई एक रिपोर्ट के अनुसार, अगस्त के तीसरे हफ्ते तक इस साल डेंगू के कुल 530 मामले सामने आए हैं. यह आंकड़ा पिछले पांच साल में इस अवधि के आंकड़ों में सर्वाधिक है. अगस्त महीने में डेंगू के सबसे ज्यादा 477 मामले सामने आए हैं. 17 अगस्त तक कम से कम 277 मामले सामने आए हैं.
 
एक जनवरी से 21 अगस्त के बीच पिछले चार साल में इन मामलों की संख्या 28 (2014), 96 (2013), 11 (2012) और 60 (2011) थी. 2010 में इसी अवधि में 550 से अधिक मामले सामने आए थे. मच्छर जनित बीमारी के कारण आधिकारिक रूप से दो मौतें हुई हैं, जबकि अगस्त के पहले हफ्ते में दस साल की एक लड़की की मौत को नगरपालिका इकाइयों ने डेंगू का संदिग्ध मामला बताया है.
 
शहर की सभी नगरपालिकाओं की ओर से रिपोर्ट तैयार करने वाले दक्षिण दिल्ली नगर निगम के अनुसार दो मृतकों में इंद्रपुरी इलाके का एक तीन साल का लड़का शिवम और नरेला की रहने वाली 37 साल की महिला ममता रानी शामिल हैं. दोनों ही मामले उत्तर दिल्ली के हैं. गत 5 अगस्त को मणिपुर की रहने वाली दस साल की एक लड़की की तेज ज्वर के बाद एम्स में मौत हो गई थी, जिसे डेंगू का संदिग्ध मामला बताया गया. लड़की की एलिसा जांच ना होने के कारण नगरनिगम मामले को आधिकारिक नहीं मान रहे.
 
नगरनिगम के नियमों के अनुरूप डेंगू के कारण मरने वाले लोगों के आधिकारिक आंकड़े में केवल एलिसा जांच में पुष्टि किए गए मामलों को शामिल किया जाता है. दिल्ली में डेंगू के कुल मामलों में उत्तर दिल्ली में सर्वाधिक 238, दक्षिण दिल्ली में 138 जबकि पूर्वी दिल्ली में सबसे कम 38 मामले शामिल हैं.
एजेंसी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App