पुणे. डायरेक्टर की शि‍कायत पर पांच छात्रों की गिरफ्तारी और फिर जमानत के बाद भी FTII के हड़ताली छात्रों के हौंसले कम नहीं हुए हैं. FTII के हड़ताली छात्रों ने  टीवी अभिनेता और बीजेपी सदस्य गजेंद्र चौहान को संस्थान प्रमुख के पद से हटाए जाने की अपनी मुख्य मांग से किसी भी तरह का समझौता करने से इनकार कर दिया.
 
गिरफ्तार किए जाने और एक स्थानीय अदालत द्वारा चार अन्य के साथ उन्हें जमानत दिए जाने के बाद FTII छात्र संघ (एफएसए) के नेता विकास उर्स ने कहा कि इसके विपरीत इस विवादास्पद नियुक्ति मामले में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को अपने कड़े रवैये में लचीलापन लाने की जरूरत है. एफएसए के रूख यानी इस विवादास्पद मुद्दे को सुलझाने के लिए एक उच्च स्तरीय समिति द्वारा एफटीआईआई के प्रस्तावित दौरे के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘हम तैयार हैं और किसी भी वार्ता के लिए इच्छुक हैं, लेकिन हम अपनी मांगों से समझौता नहीं करेंगे.’
 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App