नई दिल्ली. पनामा पेपर्स के बाद दुनिया भर में तहलका मचाने वाले पैराडाइस पेपर्स लीक में दुनिया भर की कई हस्तियों के साथ कई भारतीयों के नाम भी शामिल हैं. पैराडाइज पेपर्स में केंद्रीय विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा, बॉलीवुड शहंशाह अमिताभ बच्चन, बीजेपी से राज्यसभा सांसद और कारोबारी आरके सिन्हा, संजय दत्त की पत्नी मान्यता दत्त के पुराने नाम दिलनशीं, नीरा राडिया, विजय माल्या, कार्ति चिदंबरम का जिक्र है. बता दें कि पनामा पेपर्स का खुलासा करने वाले जर्मनी के अखबार जीटॉयचे साइटुंग ने हैरान करने वाले खुलासे किए हैं. पैराडाइज पेपर्स में फर्जी कंपनियों, फर्मों से जुड़े कुल 1.34 करोड़ दस्तावेज शामिल हैं. जिनमें अमिताभ बच्चन, केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा समेत 714 भारतीयों के नाम सामने आए हैं. वहीं आर के सिन्हा ने इस मामले पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है. जब पैराडाइज पेपर्स में नाम आने पर बीजेपी के बिहार से राज्य सभा सांसद रविंद्र किशोर सिन्हा से सवाल पूछा गया तो उन्होंने दिलचस्प अंदाज में जवाब दिया है. रविंद्र किशोर सिन्हा ने पत्रकार द्वारा पूछे गए सवाल पर यह लिख कर जवाब दिया कि अभी उनका मौनव्रत चल रहा है.
 
कौन हैं आर के सिन्हा
आर के सिन्हा का पूरा नाम रविंद्र किशोर सिन्हा है. सिन्हा जाने-माने पत्रकार, कारोबारी और बीजेपी के बिहार से राज्यसभा सांसद हैं. इंटरनेशनल कंसोर्शियम ऑफ इनवेस्टिगेटिव जर्नलिस्‍ट्स की वेबसाइट के अनुसार आरके सिन्हा की कंपनी एसआईएस सिक्यॉरिटीज का भी पैराडाइज पेपर्स लिस्ट में नाम है. रिपोर्ट्स के अनुसार सिन्हा की कंपनी ने विदेशी फर्मों और फर्जी कंपनियों की सहायता से अपने धन को विदेशों में ठिकाने लगाया था. सिन्हा 10 अप्रैल 2014 से राज्यसभा सांसद हैं.
 
आरके सिन्हा ‘द इंडियन पब्लिक स्कूल’ नामक स्कूल ब्रांच के मालिक हैं. रविंद्र किशोर सिन्हा एक भारतीय पत्रकार, राजनीतिज्ञ, सामाजिक उद्यमी और सुरक्षा पेशेवर हैं. वह भारत और ऑस्ट्रेलिया में एक निजी सुरक्षा समाधान प्रदाता, सुरक्षा और खुफिया सेवा के संस्थापक हैं. सिन्हा राजनीति विज्ञान और कानून के स्नातक हैं और एक पत्रकार के रूप में अपना करियर शुरू किया. उन्होंने 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के बाद सेवानिवृत्त सैनिकों की मदद के लिए सुरक्षा और खुफिया सेवा तैयार की. सिन्हा 2014 में उच्च सदन सांसद के तर पर भारतीय जनता पार्टी द्वारा बिहार का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुने गए थे.
 

पैराडाइज पेपर्स लीक: जानिए क्या है पैराडाइज पेपर्स खुलासा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App