नई दिल्लीः ताज महल विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. नेताओं की बयानबाजी इस पर लगातार जारी है. सोमवार को एक अंग्रेजी चैनल पर इंटरव्यू के दौरान वरिष्ठ बीजेपी नेता और सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि ताज महल चोरी की जमीन पर बनाया गया था. जल्द ही वह उन दस्तावेजों को सबके सामने जाहिर करेंगे. स्वामी ने कहा कि शाहजहां ने ताज महल के लिए जयपुर के राजा पर जमीन के लिए दबाव बनाया था. मुआवजे के तौर पर तब उसे 40 गांव दिए थे. हालांकि, अभी यह कहना जल्दबाजी होगा कि वहां पहले से मंदिर था या नहीं.
 
स्वामी ने संगीत सोम का बचाव करते हुए कहा कि वह उनके वकील नहीं है. स्वामी ने कहा, ‘संगीत सोम विचारों के बाजार में हैं. उनके लिए बेहतर जवाब यही होगा कि लोग उन्हें नकार दें. ताजमहल भारतीय संस्कृति पर कलंक है, गद्दारों ने बनवाया है, ये उनकी (संगीत सोम) भाषा है, मेरी नहीं.’ संगीत सोम के ताज महल पर विवादित बयान के बाद इस मुद्दे पर राजनीति जारी है. सीएम ममता बनर्जी ने कहा, ‘वो दिन दूर नहीं जब बीजेपी देश का नाम बदलने की भी कोशिश करेगी. अगर बीजेपी ने देश का नाम बदल दिया तो हम कहां रहेंगे.’ ममता ने कहा, ‘भारतीय संस्कृति और धरोहर को बर्बाद करना बीजेपी का सोचा-समझा पॉलिटिकल एजेंडा है.’
 
क्या है मामला
मेरठ की सरधना सीट से भाजपा विधायक संगीत सोम ने ताज महल को लेकर कहा था कि गद्दारों के बनाए ताज महल को इतिहास में जगह नहीं मिलनी चाहिए. ताज महल भारतीय संस्कृति पर धब्बा है. जब ताज महल का नाम देश के ऐतिहासिक स्थलों में से निकाल दिया गया था तो कुछ लोगों को बहुत दर्द हुआ था. समाजवादी पार्टी के नेता और यूपी के पूर्व मंत्री आजम खां द्वारा बनवाई गई जौहर यूनिवर्सिटी आतंकवादियों का अड्डा है. पिछली यूपी सरकार में गलत तरीके से यूनिवर्सिटी को मोटा बजट दिया गया, इसकी जांच चल रही है और जांच के बाद कार्रवाई होगी. इस दौरान सोम ने रोहिंग्या मुसलमानों को आतंकी करार देते हुए उन्हें देश में शरण न देने की बात कही.
 
हज हाउस बना तो कांवड़ हाउस भी बनना चाहिए था
सोम ने आगे कहा कि जिस समय गाजियाबाद में हज हाउस का निर्माण हुआ था, उसी दौरान वहां कांवड़ हाउस भी बनना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं हुआ. अब हमारी सरकार इस पर काम कर रही है. बता दें कि यह पूरा विवाद यूपी टूरिज्म बुक में ताज महल को स्थान नहीं दिए जाने पर शुरू हुआ था. विवाद के बढ़ते ही योगी सरकार सामने आई और सफाई दी कि ताज महल देश की धरोहर है. ताज महल के रख-रखाव के लिए काफी पैसा खर्च किया जा रहा है.
 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर