सूरत: गुजरात के सूरत में रेप के आरोप में जैन मुनि महाराज को पुलिस ने गिरफ्तार किया है हालांकि गिरफ्तारी के बाद जैन मुनि खुद पर लगे आरोपों को साजिश बता रहा हैं. धर्म की आड़ में लड़की से दरिंदगी करने वाला ये जैन मुनि शांति सागर महाराज हैं. आरोप है कि जैन मुनि ने 19 साल की एक छात्रा का रेप किया, जिसके बाद सूरत पुलिस ने शनिवार देर रात आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. इधर, जैन मुनि की गिरफ्तारी के बाद जैन समुदाय के कुछ संगठनों ने विरोध प्रदर्शन भी किया और घटना को साजिश बताते हुए जांच की मांग की है.
 
पुलिस के मुताबिक मध्यप्रदेश के ग्वालियर की रहने वाली एक लड़की ने जैन मुनि पर रेप का आरोप लगाया है. पीड़ित लड़की वडोदरा में फैशन डिजाइनर का कोर्स कर रही है. लड़की ने बताया कि वो अपने परिवार के साथ एक अक्टूबर को सूरत के जैन मंदिर गई थी. जहां चातुर्मास करने पधारे मुनि ने मंत्र जाप के नाम पर लड़की को मंदिर में ही रोक लिया और माता-पिता को दूसरे कमरे में मंत्र जाप के लिए भेज दिया. फिर आरोपी ने लड़की से रेप किया. इस दौरान 45 वर्षीय शांतिसागर जैन मुनि ने लड़की को धमकाया और शोर मचाने पर उसके मां-बाप को जान से मरवाने की धमकी भी दी. हालांकि गिरफ्तारी के बाद जैन मुनि मीडिया के कैमरे से बचते दिखाई दिए और खुद को बेगुनाह बता रहे हैं.
 
छात्रा की शिकायत पर शांतिसागर के खिलाफ अठवा थाने में रेप का मुकदमा दर्ज किया गया है. शुक्रवार देर रात मेडिकल चेकअप में छात्रा के साथ रेप की पुष्टि हुई है. इधर, पीड़ित लड़की के मेडिकल जांच के बाद सूरत के सिविल अस्पताल की सीएमओ ने बताया कि आरोपी मुनि का सोमवार को पोटेंसी टेस्ट कराया जाएगा. पीड़ित लड़की ने बताया कि माता-पिता करीब 7 महीने पहले ही शांतिसागर महाराज के संपर्क में आए थे. उन्होंने मार्च 2017 में उन्हें गुरु बनाया था लेकिन, इस दौरान लड़की मुनि से नहीं मिली थी.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App