चंडीगढ़. पिछले कुछ समय से गायब हनीप्रीत के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है. ये खुलासा खुद हनीप्रीत के पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने किया है. विश्वास ने कहा कि उन्होंने हनीप्रीत और राम रहीम को नंगे देखा. उन्होंने कहा कि हनीप्रीत राम रहीम की बेटी नहीं है. दोनों के उम्र में 13 साल का अंतर है. बेटी बनाकर राम रहीम ने हनीप्रीत को पत्नी बनाकर रखा. 
 
विश्वास गुप्ता ने कहा कि राम रहिम ने अपने गुफा में बिग बॉस का सेट अप लगाया था. उस गुफा में राम रहीम बिग बॉस गेम खेलाता था. गुफा में लड़के-लड़कियों के कमरे अलग थे. हनीप्रीत जानबूझ कर गेम में गलतियां करती थी. ताकि उसे राम रहीम के साथ वो समय बिता सके.
 
विश्वास गुप्ता ने कहा कि उन्होंने राम रहीम को हनीप्रीत के साथ नंगे देखा. वो दोनों दरवाजा गुफा का दरवाजा खोलकर सेक्स कर रहे थे, तभी मेरी नजर उन दोनों पर पड़ गई.वे दोनों सेक्स कर रहे थे.
 
विश्वास गुप्ता ने दावा किया कि हनीप्रीत बेटी नहीं है. राम रहीम हनीप्रीत के साथ रहना चाहता था. इसलिए उसने गोद लिया. जब मुझसे पूछा गया तो मैंने भी मना नहीं किया. रात में गुफा में पार्टी रखी गई. मेरे परिवार को भी पार्टी में बुलाया गया. उस दिन ऐलान किया गया कि हनीप्रीत बाबा की मझोली मुंहबोली बेटी है. 
 
राम रहीम का परिवार और मेरा परिवार दोनों उस दिन शामिल था. अंत में हनीप्रीत और मुझे रोक लिया गया. मुझे राम रहीम ने कहा कि वो अपनी बेटी यानी कि हनीप्रीत के साथ एक रात साथ में ठहरना चाहता है, तो विश्वास ने मना नहीं किया इसलिए क्योंकि दोनों में बाप-बेटी का रिश्ता है. मगर उन्होंने दावा किया कि इस रिश्ते की आड़ में राम रहीम ने गलत संबंध स्थापित किये.
 
मेरा मुंह चुप करवाने के लिए मुझे सारी सुविधाएं दे दी गई. उनका मकसद था कि दिखावे, सुविधा और पावर में चुप हो जाएगा. मगर मुझे भनक हो गई थी. विश्वास ने दावा किया कि गोद लेने की प्रक्रिया भी गैरकानूनी है. कानून का पालन नहीं किया गया. 
 
विश्वास गुप्ता ने कहा कि एक बार जब हम राम रहीम के साथ जा रहे थे, तो हनीप्रीत मेरी गाड़ी में थी, मगर बाद में बाबा की गाड़ी में बैठ गई. इसके लिए खुद राम रहीम ने कहा था. हनीप्रीत बुलेट प्रूफ गाड़ी में पार्टिशन होता है जिसमें ये दोनों बैठ गये. उसमें मैं और ड्राइविंग करने लगा. 
 
उसने कहा कि आपको राम रहीम ने बुलाया. हनीप्रीत उनकी गोद में बैठकर रो रही थी. बाबा रोने लगा. उसने मुझे ये जताया कि मैं गलत था. बिगबॉस में सजा के तौर पर गुफा में अकेले स्मरण करना होता था. राम रहीम खेल की आड़ में गलत काम करता था.