जयपुर. राजस्थान के जयपुर में जीका वायरस तेजी से फैल रहा है. शनिवार को जिले में कुल 50 लोगों में जीका वायरस पाया गया है. राजस्थान सरकार के मुख्य सचिव ने जीका वायरस के सबसे प्रभावित क्षेत्र शास्त्री नगर के लिए खास दिशा निर्देश जारी किए हैं. जीका वायरस को लेकर शास्त्री नगर और सिंधी कैंप जैसे इलाकों में स्वास्थ्य विभाग और केंद्र से आई टीमें लगातार अभियान चला रही हैं. क्षेत्र में हालात बदतर हैं. डब्लूएचओ की टीम ने वायरस को फैलने से रोकने के लिए जयपुर आने की बात कही है. राजस्थान पिछले 19 दिनों से जीका से प्रभावित है.

हालातों के देखते हुए शहर में निगरानी टीम को 50 से बढ़ाकर 170 कर दिया गया है. अस्पतालों में इसके मरीजों के लिए खास वार्ड बनाए गए हैं. बता दें कि एडिज एजेप्टी मच्छर के जरिए फैलने वाले जीका वायरस के शरीर में आ जाने से मरीज को त्वचा पर दाग धब्बे और तेज बुखार होता है, जोड़ो और मांसपेशियों में दर्द, और आंखों में संक्रमण जैसी परेशानी होती है.

बता दें कि इस साल जयपुर में जीका वायरस के सबसे ज्यादा मामले सामने आए. इसके अलावा इसी साल राजस्थान के लोगों ने स्वाइन फ्लू की मार भी बुरी तरह झेली थी. इसी साल कुल 1852 लोग बीमारी की चपेट में आए थे और कुल 186 लोगों की मौत भी हो गई थी. वहीं डेंगू की बात करें तो राजस्थान टॉप 5 में हैं. साल 2018 में राजस्थान में डेंगू के 3022 मामले सामने आए. तब चार लोगों ने बीमारी से जान गंवाई थी.

Zika Virus in Rajasthan: राजस्थान में 22 लोगों में जीका वायरस की पुष्टि, पीएमओ ने स्वास्थ मंत्रालय से मांगी डीटेल रिपोर्ट

अंधविश्वास: पूर्णमासी पर गर्भधारण से बेटी पैदा होने के शक में पति ने पत्नी को पीटा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App