लखनऊ: यूपी सरकार ने गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 63 बच्चों की मौत के मामले में कॉलेज के प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया है. यूपी के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मुख्य सचिव के नेतृत्व में पूरे घटना की उच्च स्तरीय जांच की जा रही है. रिपोर्ट आते ही दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी.
 
अस्ताल में आक्सीजन की कमी के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन की कमी से बच्चों की मौत नहीं हुई है. अभी भी ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है.
 
 
बता दें कि यूपी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर में इस वक्त कोहराम मचा हुआ है. यहां के बीआरडी अस्पताल में पिछले पांच दिनों के अंदर 63 बच्चों की मौत हो गई है, जिसकी वजह से पूरे जिले में हाहाकार मचा हुआ है.
 
32 मौते तो पिछले 48 घंटों में ही हुई हैं, उससे पहले भी तीन दिन के अंदर ही 28 बच्चों ने दम तोड़ दिया था. इन 63 बच्चों में 5 नवजात शिशु भी हैं. हालांकि मौत की वजह अभी तक साफ नहीं हो पाई है, लेकिन इसके पीछे ऑक्सीजन की कमी बताई जा रही है. 
 
 
घटना से दो दिन पहले सीएम ने किया था दौरा
दो दिन पहले ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने बीआरडी अस्पताल का दौरा किया था. उन्होंने बाल चिकित्सा वार्ड का जायजा भी लिया था और साथ ही 10 बेड वाले आईसीयू का उद्घाटन भी किया था. इसके अलावा जापानी एन्सेफलाइटिस वायरस से ग्रसित बच्चों के लिए बने वार्ड का भी दौरा सीएम योगी ने किया था.