नई दिल्ली. कांग्रेस ने ललित मोदी प्रकरण के बाद एक बार फिर से बीजेपी को निशाने पर लेते हुए में हिमाचल प्रदेश के पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल और उनके बेटे अनुराग ठाकुर पर सत्ता का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है. जयराम ने धूमल और उनके अनुराग पर आरोप लगाया कि हिमाचल की सत्ता में रहते इन दोनों ने अपने पद व अधिकारों का दुरुपयोग किया. इस कारण राजकोष को 100 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ. 

रमेश ने कहा कि वर्ष 2002 में धूमल जब हिमाचल के सीएम थे, उन्होंने धर्मशाला में अपने बेटे की अध्यक्षता वाले हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (एचपीसीए) को 16 एकड़ जमीन आवंटित कर दी.उन्होंने कहा कि उस जमीन पर एक स्टेडियम बनना था, जिससे राज्य सरकार को 94 लाख रुपये सालाना आय हो सकती थी, लेकिन प्राप्त हुए सिर्फ 12 रुपये.

उन्होंने कहा कि धूमल की अध्यक्षता वाले कैबिनेट ने एचपीसीए के लिए जमीन का पट्टा 99 वर्षो के लिए मंजूर किया. पट्टे की रकम मात्र एक रुपये प्रति माह तय की गई. इस कारण सरकार को 100 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App