लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अनपरा डी की 500 मेगावाट क्षमता की विद्युत इकाई का मंगलवार को उद्घाटन किया. 1000 मेगावाट की अनपरा डी परियोजना की यह पहली इकाई है. 7026 करोड़ की लागत से बनी यह योजना सात वर्षो में तैयार हुई है. इस दौरान कार्यक्रम में उनके साथ ऊर्जा राज्यमंत्री यासर शाह और कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव भी मौजूद थे.

इस परियोजना से गाजीपुर, वाराणसी, मिर्जापुर, भदोही समेत पूर्वाचल के दर्जनों जिलों को लाभ मिलेगा. राज्य विद्युत उत्पादन निगम 500-500 मेगावाट की दो यूनिटों वाली अनपरा डी तापीय परियोजना का निर्माण कर रहा है. 30 जून से 500 मेगावाट की दूसरी इकाई का भी विद्युत उत्पादन शुरू हो जाएगा. इससे राज्य के ग्रामीणों इलाकों में 16 घंटे और शहरी इलाकों में 22 से 24 घंटे बिजली मिल सकेगी.

अखिलेश यादव ने अफसरों को बधाई देते हुए कहा कि उन्होंने इस क्षेत्र में बहुत काम किया है और बहुत काम हो रहे हैं. गांव में 16 घंटे और शहरों में 22 घंटे बिजली देने पर काम हो रहा है. जुलाई में अनपरा डी की दूसरी यूनिट भी शुरू होगी. ऊर्जा विभाग का बजट चार गुना कर दिया है. अनपरा डी से 2. 92 प्रति यूनिट बिजली मिलेगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि संजय अग्रवाल ने बिजली विभाग में अच्छा काम किया है. आने वाली गर्मी में बिजली की किल्लत नहीं होने देंगे. सोनभद्र और मिर्जापुर में एंबुलेंस बढ़ाई जाएगी. इसके साथ ही यह आदिवासियों का इलाका है, जिसे देखते हुए यहां समाजवादी पेंशन बढ़ाई जाएगी.

IANS

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर