नई दिल्ली. देश के पहले मुख्य सूचना आयुक्त वजाहत हबीबुल्लाह ने स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस से जुड़ी फाइलें सरकार के पास हैं ही नहीं. हबीबुल्लाह ने कहा है कि नेताजी के रहस्यमयी ढंग से लापता होने से जुड़े दस्तावेज या तो दस्तावेज गुम हो गए हैं या उन्हें चूहे खा गए हैं.
 
आपको बता दें कि पूर्व मुख्य सूचना आयुक्त सरकारी रिकॉर्ड्स के रखरखाव में लापरवाही पर बोल रहे थे. उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर दस्तावेज सार्वजनिक क्यों नहीं किए गए. कुछ महीने पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जर्मनी की यात्रा पर गए थे तो नेताजी के परिजनों ने उनसे दस्तावेज सार्वजनिक करने की मांग की थी, लेकिन उनकी ये मांग पूरी नहीं हो सकी. मोदी ने 2014 में लोकसभा चुनाव अभियान के दौरान ये कहा था कि क्यों नेताजी की मौत से जुडे दस्तावेज़ सार्वजनिक नहीं किए जा सकते, लेकिन मोदी को पीएम बनने एक साल से ज्यादा हो गए हैं, लेकिन नेता की मौत पर जुड़ा रहस्य ज्यों का त्यों बना हुआ है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App