मुंबई :  एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के समर्थन पर शिवसेना ने हरी झंडी दिखा दी है. उम्मीद जताई जा रही थी कि शिवसेना इसका विरोध करेगी मगर अब शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने खुद इस बात का ऐलान कर दिया है कि वो एनडीए के उम्मीदवार कोविंद का समर्थन करेंगे. 
 
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कोविंद को एक बेहतर इंसान बताया और कहा कि उनके नेतृत्व में देश आगे बढ़ेगा. साथ ही उन्होंने कहा कि देश के विकास के लिए जो अच्छा काम करेगा उसे शिवसेना जरूर सपोर्ट करेगी. शिवसेना हमेशा भाजपा का विरोध करे ये सही नहीं है और न ही लोगों को हर बार ऐसा सोचना भी चाहिए.
 
 
हालांकि, शिवसेना ने ये बात स्पष्ट कर दी कि अगर आगे भी किसी मुद्दे पर जरूरत पड़ी तो शिवसेना भाजपा का विरोध करती रहेगी. शिवसेना किसानो के मुद्दे पर विरोध कर रही है और वो तब तक जारी रहेगा जब तक की किसानो का मुद्दा नहीं सुलझ जाता. बता दें कि रामनाथ कोविंद के नाम पर सहमति बनाने के लिए मातोश्री पर उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में शिवसेना नेताओ की मीटिंग हुई.
उद्धव ठाकरे ने कहा कि अमित शाह मेरे पास ख़ुद यह आए थे. उस दिन उन्होंने कहा था कि राष्ट्रपति के लिए शिवसेना साथ दे. मगर मैंने उन्हें उस वक़्त कहा था कि पहले आप नाम बताएं तब समर्थन के मामले पर विचार करूंगा. मैंने अपनी ओर से दो नाम सुझाए थे, जिनमें एक नाम मोहन भागवत का था और दूसरा स्वामीनाथन का था. लेकिन उन्होंने इसे नामंजूर कर दिया. 
 
 
उद्धव ठाकरे ने कहा कि ‘अगर अब कोंग्रेस और अन्य पार्टियां स्वामीनाथन के नाम का ऐलान करती भी है, तो अब सपोर्ट करने का कोई सवाल ही नहीं उठता है. क्योंकि हम अब इसके लिये ज्यादा इंतजार नहीं कर सकते हैं.’ बता दें कि रामनाथ कोविंद बिहार के राज्यपाल थे जिन्होंने आज शाम को ही इस्तीफा दिया.