श्रीनगर: चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान के हाथों भारत की हार के बाद श्रीनगर में देशद्रोह की तस्वीर दिखी. घाटी में जमकर जश्न मनाया गया. रात में सड़कों पर उतरे लोग नाचते गाते और पटाखे फोड़ते नजर आए, साथ ही पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की गई. श्रीनगर की सड़कों पर उतरे युवाओं का इससे पाकिस्तान प्रेम साफ झलक रहा था.  
 
कोई पाकिस्तान का झंडा लेकर सड़कों पर उतरा तो कुछ युवा पाकिस्तान टीम की जर्सी पहनकर जश्न मनाते दिखे. भारत की हार पर इन युवाओं का जश्न रातभर चलता रहा. श्रीनगर की सड़क पर पाकिस्तान के समर्थन में जमकर नारे लगे. पाकिस्तान को प्यारा और दुलारा बताकर नारेबाजी हुई. कुछ जगह तो युवकों की सुरक्षाबलों के साथ झड़प हो गई और उन्होंने सुरक्षाबलों की कैंप की तरफ पटाखे फेंके.
 
 
श्रीनगर के फतेहकदाल और साकीदफर और अनंतनाग में पुलिस और सुरक्षाबलों को कैंपों की तरफ पटाखा फेंकते युवाओं को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े. पाकिस्तान की जीत पर जश्न मना रहे युवाओं का हौसला बढ़ाने के लिए अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारुक घर से बाहर निकले.
 
 
मीरवाइज ने पाक को जीत की बधाई दी. अलगाववादी नेता मीरवाइज ने ट्वीट किया कि हर तरफ पटाखे फूट रहे हैं. ऐसा लग रहा है जैसे ईद पहले ही आ गई हो, बेहतर टीम जीती, पाकिस्तान की टीम को बधाई.
 
 
मीरवाइज के इस ट्वीट से लोग भड़के उठे. क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी कड़ी आपत्ति जताई और मीरवाइज को यहां तक कह दिया कि पाकिस्तान चले जाओ. गंभीर ने मीरवाइज को ट्वीट किया-आप बॉर्डर पार क्यों नहीं चले जाते ? वहां आपको बेहतर चीनी पटाखे मिलेंगे और ईद का जश्न भी मना पाएंगे. मैं पैकिंग करने में मदद कर सकता हूं.