गोड्डा : झारखंड के गोड्डा जिले के ललमटिया इलाके में एक कोयला खदान के धंस जाने की वजह से करीब 40 से 50 मजदूरों के फंसे होने की खबर है. जिनमें से अब तक 9 के शव निकाले गए हैं, लेकिन मरने वालों की संख्या बढ़ भी सकती है.
 
गुरुवार की शाम को करीब 8 बजे ललमटिया के भोड़ाय गांव में राजमहल कोल फील्ड में खदान धंस गई थी, रात भर राहत एवं बचाव कार्य जारी रहा. 
 
खबर है कि खदान धंसने की वजह से गाड़ियों समेत कई मजदूर फंसे हुए हैं, दो को सुरक्षित बचा लिया गया है, दोनों घायल मजदूरों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है.
 
जब यह घटना हुई तब खदान में करीब 40 से 50 मजदूर काम कर रहे थे, हादसे में मजदूरों के साथ-साथ 35 से ज्यादा हाइवा और 4 पे लोडर के दबे होने की भी खबर है.
 
 
बता दें कि हादसा रात में हुआ इसलिए CISF, NDRF और CRPF की टीमों को राहत एवं बचाव कार्य में काफी दिक्कत आई. घटना के बाद से मुख्यमंत्री रघुवर दास खुद इस पर नजर बनाए हुए हैं.
 
सीएम दास ने घटना पर दुख जताते हुए गोड्डा के डीसी और मुख्य सचिव राजबाला वर्मा को राहत व बचाव कार्यों में पूरी मुस्तैदी बरतने का आदेश दिया है. 
 
 
वहीं कांग्रेस ने घटना के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा है कि हादसे के ज़िम्मेवार लोगों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया जाए.