नई दिल्ली: कोरोना संक्रमण से लड़ रहे डॉक्टरों और मेडिकल स्टॉफ को भी इस घातक वायरस ने अपनी चपेट में लेना शुरू कर दिया है. दिल्ली की तीन रेजिटेंड डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. 26 मार्च को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के बायोकैमेस्ट्री विभाग में काम करने वाली महिला डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाई गईं और अब उनके पति जो सरदार वल्लभभाई पटेल अस्पताल में पीडियाट्रिक्स डिपार्टमेंट में डॉक्टर हैं, वो भी कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं. सरदार वल्लभ भाई पटेल अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि 32 वर्षीय डॉक्टर की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई है लेकिन वो दोबारा उनकी जांच कर रहे हैं. डॉक्टर दंपत्ति साउथ दिल्ली के इलाके में रहते हैं.

तीसरा मामला दिल्ली स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट का है जहां डिपार्टमेंट ऑफ प्रिवेंटिव ऑनकोलॉजी विभाग के एक सीनियर रेजिटेंड डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. खबर है कि सफदरजंग अस्पताल के दो डॉक्टर कोरोना संक्रमित हो गए हैं. पहले डॉक्टर कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए बनाए गई यूनिट में काम कर रहे थे जबकि दूसरी रेजिडेंट महिला डॉक्टर हैं जो पीजी थर्ड ईयर की छात्रा भी हैं. बताया जा रहा है कि उनकी फॉरेन ट्रेवल हिस्ट्री भी है.

इससे पहले दिल्ली सरकार द्वारा चलाए जाने वाले मोहल्ला क्लीनिक के दो डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाए गए थे. अब स्वास्थ्य विभाग उस अवधि में उनसे ईलाज करवाने वाले करीब दो हजार लोगों को खोज रहा है. दिल्ली में अबतक कोरोना संक्रमित 120 लोगों की पुष्टि हो चुकी है. स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक भारत में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और अब ये संख्या 1637 क पहुंच गई है. एक ही दिन में 240 कोरोना संक्रमित केस आने से भारत में स्थिति गंभीर हो गई है. यही नहीं, कोरोना संक्रमित लोगों की मौत के मामले भी लगातार बढ़ रहे हैं. कोरोना से संक्रमित 38 लोगों की अबतक मौत हो चुकी है.

Coronavirus in Mobile Phone: आपके मोबाइल पर चार घंटे तक जिंदा रह सकता है कोरोना वायरस, ऐसे करें अपने फोन को सुरक्षित

Nizamuddin coronavirus scare: निजामुद्दीन मरकज में रहने वाले 24 लोगों में कोरोना की पुष्टि, मौलाना के खिलाफ दर्ज होगा केस

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर