लखनऊ. 500 और 1000 रुपए के नोट बैन को लेकर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गाजीपुर रैली पूरी तरह फेल रही है. पीएम मोदी की गाजीपुर की रैली में बिहार से 250-250 रुपए पर लोग लाए गए हैं.
 
 
उन्होंने कहा कि बीजेपी वाले पैसे देकर भी एक लाख लोग भी इकट्टठे नहीं कर पाए. मुश्किल से 20 से 25000 लोग इकट्टठा कर पाए.
 
 
मायावती ने कहा कि मोदी जी की रैली के लिए बीजेपी वालों ने लोगों को ट्रेन और बसें फ्री की गईं. पीएम की रैली में भीड़ की अलग तस्वीर दिखाई गई थी. केंद्र सरकार के फैसले से इस वक्त देश में भयावह स्थिती आ गई है. केंद्र सरकार ने ब्लैक मनी खत्म करने के नाम पर आम लोगों को खुले आसमान के नीचे आकर खड़ा कर दिया है. पीएम मोदी खुद भी दुध के धुले नहीं हैं.
 
 
मायावती ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि काला धन के लिए केंद्र केवल आम जनता को परेशान कर रही है लेकिन केंद्र सरकार ने अब तक महाभ्रष्टाचारी ललित मोदी और विजय माल्या पर कोई कार्रवाई नहीं की. हमारी पार्टी भ्रष्टाचारियों को सजा दिलाने के फैसले का पूरी तरह से समर्थन करती है. 
 
 
मायावती ने कहा कि पीएम मोदी जी ने यूपी की जनता के लिए किए अपने वादों का एक चौथाई हिस्सा भी पूरा नहीं किया है. मोदी जी ने कहा था कि देश के बाहर से काला धन वापस लाएंगे और हर गरीब के खाते में 15 लाख रुपये देंगे लेकिन अभी तक ऐसा कुछ नहीं हुआ, काला धन के नाम पर केवल जनता को परेशान किया जा रहा है.
 
 
बसपा सुप्रीमो ने आगे कहा कि मैं मोदी जी से पूछती हूं कि पीएम मोदी ने पूर्वांचल के विकास के लिए अब तक क्या किया है ? लोकसभा चुनाव में लोगों ने बीजेपी और मोदी जी के बहकावे में आकर इन्हें वोट दे दिया और कुर्सी पर बिठा दिया. अब उनके फैसले से लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर