नई दिल्ली. मानहानि के मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट आज कोई फैसला सुना सकता है. केजरीवाल ने कोर्ट में याचिका लगाई थी कि उनके खिलाफ दायर आपराधिक मानहानि मामले की याचिका पर रोक लगाई जाये. 25 जुलाई को हाई कोर्ट ने इस याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था.
 
उच्च न्यायालय ने केजरीवाल के उस अनुरोध पर 25 जुलाई को अपना फैसला सुरक्षित रखा था, जिसमें मामले की सुनवाई तब तक टालने से इन्कार किया गया है जब तक हाई कोर्ट 10 करोड़ के सिविल मानहानि मामले में कोई फैसला नहीं दे देता है. मुख्यमंत्री व अन्य पांच आप नेताओं के खिलाफ ये याचिका केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दायर की है.
 
मामले में अरविंद केजरीवाल के अलावा आप नेता कुमार विश्वास, आशुतोष, राघव चड्ढा, संजय सिंह और दीपक वाजपेयी को आरोपी बनाया गया हैं. दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में कथित भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए दिसंबर 2015 में मुख्यमंत्री और कुछ आप नेताओं ने वित्तमंत्री अरुण जेटली के खिलाफ बयानबाजी की थी. जिसके बाद वित्तमंत्री ने हाई कोर्ट में सिविल और पटियाला हाउस कोर्ट में आपराधिक मामला दायर किया था.