कोझीकोड. सीपीएम नेता और केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ की है. कोझीकोड में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे केरल के सीएम ने कहा  ‘पहले कुछ और बात थी अब कुछ और’. राज्य के विकास के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने पूरी तरह मदद का आश्वासन दिया है.

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक  केरल के मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास के मुद्दे पर न सिर्फ पीएम बल्कि उनके मंत्रियों का रुख हमेशा पॉजिटिव रहता है. उन्होंने कहा ‘ हमारे बीच राजनीतिक मतभेद जरूर हैं लेकिन सच्चाई यह है कि जब हम राज्य के हित से जुड़े मुद्दे उठाते हैं तो उस दौरान यह कभी जाहिर नहीं होता है.
 
विजयन ने कहा कि यह हर कोई जानता है कि केरल के पास ज्यादा वित्तीय संसाधन नहीं हैं. राज्य को आगे बढ़ाने के लिए केंद्र की मदद बेहद जरूरी है. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर केंद्र के साथ कई बार राज्य के मतभेद हो चुके हैं. लेकिन अभी जो सरकार है उसके साथ बात कुछ और है. 
 
मुख्यमंत्री ने केंद्र के मंत्रियों की तारीफ करते हुए कहा कि सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने आश्वासन दिया है कि राज्य में सड़कों के निर्माण के लिए केंद्र सरकार जितना संभव हो सकता है आर्थिक मदद देने के लिए तैयार है.

पिनयारी ने कहा कि केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सड़क बनाने के लिए जमीन की उपलब्ध हो तो केंद्र को पैसा जारी करने में कोई दिक्कत नहीं है. गौरतलब है कि पिनयारी इससे पहले केंद्र सरकार पर उपेक्षा का आरोप कई बार लगा चुके हैं. 
 

वहीं आपको जानकारी हैरानी होगी कि 2009 में सीपीएम ने नरेंद्र मोदी की तारीफ करने पर कन्नूर के पूर्व सांसद एपी अब्दुलकुट्टी को पार्टी से निकाल दिया था. पूर्व सांसद ने दुबई में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा था कि गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को निवेशक को लुभाने के लिए राज्य का ब्रांड एंबैसडर बनाया जाना चाहिए.
 
वहीं 2013 में यूडीएफ सरकार में शामिल श्रम मंत्री शिबू बेबी जॉन को भी सीपीएम ने सिर्फ इसलिए निकाल दिया था क्योंकि वह गुजरात दौरे में तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर ली थी. अब देखने वाली बात यह होगी कि सीपीएम की ओर से मुख्यमंत्री पिनारी विजयन के बयान पर क्या प्रतिक्रिया होगी.