नई दिल्ली. भारत में जर्मनी के राजदूत मार्टिन ने सर्जिकल स्ट्राइक पर कहा है कि किसी भी देश को अधिकार है कि वह आतंकवाद से अपनी सीमा की रक्षा करे. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय कानून के मुताबिक विश्व के हर देश के पास आतंकवाद से अपनी सीमा की रक्षा करने का अधिकार है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मार्टिन ने कहा कि आतंकवाद से लड़ने के लिए हम अपने रणनीतिक साझेदार भारत के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं और यह बिल्कुल साफ बात है, ये खाली राजनीतिक शब्द नहीं हैं.
 
पाकिस्तान के खिलाफ भारत की तरफ से किए गए सर्जिकल स्ट्राइक ऑपरेशन के बाद बांग्लादेश ने भी भारत को समर्थन दिया था. ऑपरेशन के दूसरे दिन ही भारत ने 22 देशों के राजदूतों को बुलाकर स्ट्राइक के बारे में पूरी जानकारी दी थी. जहां बांग्लादेश ने भारत का साथ दिया था वहीं अमेरिका ने कहा था कि दोनों देशों को बातचीत करके मुद्दे का हल निकालना चाहिए.
 
बता दें कि भारतीय सेना ने 21 सितंबर की रात को यह ऑपरेशन किया था. सेना ने पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देते हुए 7 आतंकी शिविरों को ध्वस्त कर दिया था, साथ ही 50 आतंकियों को भी मार गिराया था. भारतीय सेना की कार्रवाई में 2 पाकिस्तानी सैनिक भी मारे गए थे.