नई दिल्ली.  पूर्व राज्यसभा सांसद और बीजेपी छोड़ चुके नवजोत सिंह सिद्धू ने दिल्ली में कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की है. इसके बाद राहुल ने पंजाब से कांग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी मिलने के लिए बुलाया.
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
अखबार दैनिक भास्कर में छपी खबर के मुताबिक कांग्रेस और सिद्धू 7 अक्टूबर को कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं. पंजाब विधानसभा चुनाव को लेकर राहुल और सिद्धू के बीच ठीक-ठाक बातचीत हुई है और अगर सब कुछ ठीक रहा है तो हाल ही में बनाए गए सिद्धू का मोर्चा ‘आवाज-ए-पंजाब’ कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ सकता है.
अजहरुद्दीन ने कराई मुलाकात
खबर है कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और पूर्व कांग्रेस सांसद मोहम्मद अजहरुद्दीन ने सिद्धू की मुलाकात राहुल से कराई है. हालांकि इस मुलाकात को करवाने के लिए प्रशांत किशोर भी काफी दिनों से कोशिश कर रहे थे.
लेकिन अभी है एक बड़ा सवाल
पंजाब के लिए बीजेपी और राज्यसभा की सदस्यता छोड़ने का ऐलान करने वाले सिद्धू को कांग्रेस के नेता कितना अपनाएंगे, यह एक बड़ा सवाल है. इससे पहले सिद्धू कांग्रेस के नेताओं को पानी पीकर कोसते रहे हैं.कांग्रेस का आम कार्यकर्ता सिद्धू की उन बातों को इतनी जल्दी भूल जाएगा यह भी देखने वाली बात होगी.
सिद्धू हो रहे हैं बार-बार ‘गुगली’ के शिकार
अपने क्रिकेट करियर के दौरान स्पिन गेंदबाजी खेलने में महारत रखने वाले नवजोत सिंह सिद्धू राजनीति की क्रीज पर कई बार ‘गुगली’ के शिकार हो चुके हैं. पहले बीजेपी में इतने साल रहने के बाद उनकी बार-बार आश्वासन के सिवाए उन्हें कुछ नहीं मिला. उसके बाद बीजेपी छोड़ने के बाद उन्हें आम आदमी पार्टी ने ठेंगा दिखा दिया. अब वह कांग्रेस के पाले में हैं जहां पहले से पंजाब के कई धाकड़ नेता मौजूद हैं. अब 7 अक्टूबर को ही पता चल पाएगा कि कांग्रेस पंजाब चुनाव में उनका कैसे इस्तेमाल करती है.