नई दिल्ली. भारत के सफल सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत-पाक के बीच पनपे तनाव को लेकर हालात की समीक्षा के लिए सुरक्षा मामलों की केन्द्रीय कैबिनेट की बैठक खत्म हो गई है. बैठक में पाकिस्तान के मुद्दे पर चर्चा हुई साथ ही एड्स रोकथाम और नियंत्रण विधेयक 2014 के अलावा कई विधेयकों को मंजूरी दी गई. इसके अलावा सर्जिकल स्ट्राइक की वीडियो जारी करने पर भी विचार किया गया. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि इससे पहले भी सीसीएस की अहम बैठक पिछले बुधवार को हुई थी. आज की बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, मनोहर पर्रिकर,  सुषमा स्वराज, एनएसए अजीत डोभाल समेत कई नेताओं और वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया. इस बैठक में भारत के द्वारा पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक की वीडियो जारी करने पर विचार किया गया. 
 
 
सूत्रों के अनुसार इस मीटिंग में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के संभावित जवाबी हमले से बचाव पर रणनीति बनाई गई. बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार ने कूटनीतिक, राजनीतिक और सैन्य स्तर पर पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई करने की योजना बनाई है. हालांकि कूटनीतिक स्तर पर पाक को घेरने की रणनीति पर काम पहले ही शुरु हो चुका हैं. 
 
 
बता दें कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. ऑपरेशन के बाद विश्व जगत के साथ-साथ अपने देश में आलोचनाओं का शिकार हुआ पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. वो एलओसी पर बार बार सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है. मंगलवार को भी पाकिस्तानी सेना ने नौशेरा के झांगर, कलसियान और मकरी सेक्टर को निशाना बनाया.