हजारीबाग. राज्य के हजारीबाग के बड़कागांव में ‘कफन सत्याग्रह’ में शनिवार को पुलिस और ग्रामीणों के बीच टकराव हो गया. इस झड़प में पुलिस की फायरिंग में छह लोगों की मौत हो गई और कई घायल हो गए. इसके बाद इलाके में तनाव की स्थिति के चलते बड़ी संख्या में पुलिस तैनात की गई है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
यह आंदोलन एनटीपीसी के खनन कार्य के विरोध में चलाया जा रहा है. गांव वाले एनटीपीसी से भूमि अधिग्रहण 2013 के अनुपालन और उचित मुआवजे की मांग कर रहे हैं. इसी विरोध के दौरान पुलिस और ग्रामीणों में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई.
 
विधायक की गिरफ्तारी पर भड़के
पुलिस ने शनिवार तड़के बड़कागांव की एमएलए निर्मला देवी को भी ​गिरफ्तार कर लिया था. कंपनी के लोग शुक्रवार रात खनन करने जा रहे थे, लेकिन, मौके पर मौजूद निर्मला देवी और प्रदर्शनकारियों ने उन्हें जाने नहीं दिया. गांव वाले यहां 16 दिनों से निर्मला देवी की अगुआई मेें आंदोलन कर रहे हैं. 
 
निर्मला देवी की गिरफ्तारी से ग्रामीणों ने विधायक को छुड़ाने के लिए पुलिस पर हमला बोल दिया और पथराव शुरू कर दिया. इस पर पुलिस ने लाठीचार्ज और फायरिंग शुरू की दी. कुछ पुलिसवाले भी इसमें घायल हो गए. इलाके में धारा 144 लगा दी गई है.