नई दिल्ली. 2अक्टूबर पर गांधी जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में प्रवासी भारतीय केंद्र का उद्घाटन किया. इस मौके पर उन्होंने गांधी जी को याद करते हुए कहा कि महात्मा गांधी भी भारत से बाहर गए थे, लेकिन देश की पुकार की वजह से वह भारत लौट आए.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारे पास दुनिया को देने के लिए बहुत कुछ है. उन्होंने कहा कि दुनिया के 150 देशों में भारतीय प्रवासी रहते है. यदि हम चाहे तो ब्रेन ड्रेन को ब्रेन गेन में बदल सकते है. हमारे पास दुनिया को देने के लिए  बहुत कुछ है. उन्होंने आगे कहा  कि हमें सिर्फ संख्या के आधार पर नहीं, बल्कि शक्ति के तौर पर देखना चाहिए. भारतीयों ने हर क्षेत्र में अपने देश का नाम रोशन किया है. 
 
2 अक्टूबर को देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का भी जन्म हुआ था. प्रधानमंत्री ने उन्हें भी याद किया. उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रवासी भारतीय दिवस की शुरुआत की थी और हम आज इसे आगे बढ़ा रहे हैं. उन्होंने ये भी कहा दुनिया के लोगो का नज़रिया भारतीयों को लेकर अब बहुत बदल चुका है.