नई दिल्ली. भारत के सार्क शिखर सम्मेलन में हिस्सा न लेने के फैसले को अब श्रीलंका का भी साथ मिल गया है. पड़ोसी देश श्रीलंका ने भी नवंबर में इस्लामाबाद में होने वाले सार्क शिखर सम्मेलन में शामिल होने से साफ मना कर दिया है. उसने कहा कि अभी महौल सही नहीं है जिसकी वजह से यह फैसला लिया गया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
उरी हमले के बाद भारत ने सार्क सम्मेलन में शामिल न होने का फैसला किया था, जिसके बाद बांग्लादेश, भूटान और अफगानिस्तान ने भी सम्मेलन का बहिष्कार कर दिया था और अब श्रीलंका ने भी मना कर दिया है. 
 
 
श्रीलंका बना 5वां देश
श्रीलंका सहित अब तक पांच देशों ने 9-10 नवंबर को इस्लामाबाद में होने वाले इस सम्मेलन में शामिल होने से मना कर दिया. सार्क में कुल आठ देश हैं भारत, पाकिस्तान, भूटान, नेपाल, मालदीव, अफगानिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका.
 
क्या है नियम ?
नियम है कि अगर कोई भी एक सदस्य देश इस सम्मेलन से खुद को अलग कर देता है तो इसे रद्द कर दिया जाता है. पहले खबर आई थी कि पाकिस्तान ने सम्मेलन रद्द कर दिया है, लेकिन वर्तमान में सार्क की अध्यक्षता कर रहे नेपाल ने कहा है कि सार्क सम्मेलन होना है या नहीं इस पर आधिकारिक फैसला अभी नहीं किया गया है.