नई दिल्ली.  भारतीय सेना के द्वारा पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल ऑपरेशन करने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है. जिसके बाद जम्मू कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के करीब के गांवों को खाली कराने का काम शुरु हो गया है. नौसेरा गांव के ग्रामीणों ने अपने घर छोड़ दिए हैं. गांवों को पाकिस्तान की जवाबी कार्यवाही की आशंका को देखते हुए खाली कराया जा रहा है.इससे पहले सुरक्षा के  मद्देनजर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पंजाब के सीएम से बात करके उन्हें बॉर्डर के पास का 10 किमी का इलाका खाली कराने को कहा है. साथ ही बीएसएफ को बॉर्डर पर अलर्ट रहने को कहा गया है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि बुधवार की रात भारतीय सेना ने पाकिस्तान में घुसकर 7 आतंकी कैंपों को ध्वस्त करते हुए 38 आतंकियों को मार गिराया है. जिसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर पहुंच गया है. पाकिस्तान ने भी भारत के सर्जिकल स्ट्राइक की पुष्टि कर दी है. इस स्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भारत को धमकी देते हुए कहा है कि भारत को इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.
 
बता दें कि सैन्य अभियानों के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा है कि भारतीय सेना ने बीती रात एलओसी के पास सर्जिकल ऑपरेशन किया है. जिसमें कई आतंकी मारे गए हैं. रणबीर सिंह ने यह बात मीडिया को कैबिनेट की सुरक्षा मामलों की समिति की बैठक के बाद प्रेस कांफेंस मे  बताई है. उन्होंने कहा है कि सीमा पर पाकिस्तान लगातार सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है.  इस साल 20 बार घुसपैठ की गई है, लेकिन हमने सभी कोशिशों को नाकाम साबित कर दिया है.