संयुक्त राष्ट्र.  संयुक्त राष्ट्र में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के करारे जवाब से पाकिस्तान तिलमिला गया है. कश्मीर मुद्दे पर सुषमा की ओर से दिए गए जवाब के बाद अब पाकिस्तान की ओर से कहा गया है कि कश्मीर भारत का न कभी अभिन्न हिस्सा रहा है और न कभी होगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की राजदूत मलीहा लोधी ने भारत की ओर से लगाए गए सभी आरोप निराधार हैं. इतना ही नहीं भारत की ओर से बलूचिस्तान के मुद्दे पर उठाए गए सवाल को पाक की राजनीयिक ने अंतरराष्टीय नियमों का उल्लंघन बताया. 
 
मलीहा लोधी ने सुषमा के भाषण पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कश्मीर के विवादित क्षेत्र है जिसकी अंतिम स्थिति संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के मुताबिक नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने फिर उरी हमले में पाकिस्तान की ओर से सवाल उठाए. 
 
लोधी का कहना था कि उरी में हुए हमले का समय इस बात का सबूत है कि भारत में कश्मीर में हो रहे अत्याचार से सबका ध्यान भटकाना चाहता है. पाक डिप्लोमैट ने कहा कि कश्मीर में जारी हिंसा और  अत्याचार को छिपाने के लिए भारत उरी हमले का इस्तेमाल कर रहा है. 
 
वहीं भारत की ओर से लगाए आरोपों को खारिज करते हुए लोधी ने कहा कि पूरी दुनिया जानती है कि भारत झूठी सूचनाएं फैलाने के लिए ऐसी घटनाओं को पहले भी अंजाम दे चुका है. 
 
आपको बता दें कि मलीहा लोधी ने संयुक्त राष्ट्र की आम सभा में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के भाषण पर ट्वीटर पर भी प्रतिक्रिय़ा दी थी. उनकी ओर से कहा गया ‘भारतीय विदेश मंत्री का भाषण झूठ का पुलिंदा है. सबसे बड़ा झूठ है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. कश्मीर का विवाद अंतर्राष्ट्रीय मुद्दा है और पूरी दुनिया इसे मानती है.