कोझिकोड. केरल के कोझिकोड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वोट बैंक की राजनीति पर प्रहार करते हुए कहा कि मु्सलमानों को इस देश में वोट बैंक न समझा जाए.

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 

पीएम केरल के कोझीकोड में बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद में पंडित  दीनदयाल उपाध्याय की शताब्दी समारोह के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि पंडित जी ने यह बात आज से 50 साल पहले की कही थी.  

PM मोदी ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय का मानना था ‘मुसलमानों को पुरस्कृत और तिरस्कृत करने की जरूरत नहीं है. उनका परिष्कार होना चाहिए. मुसलमानों को वोट की मंडी का माल न समझा जाए. 
 

PM मोदी ने कहा कि हमें समाज के निचले वर्ग को साथ लेकर विकास करना है. हमारी विकास यात्रा में कोई भी पीछे नहीं रह सकता. हमारा प्रयास रहेगा कि हम संतुलित विकास यात्रा को आगे बढ़ाएं. हमारी सरकार समाज के आखिरी व्यक्ति के कल्याण को प्रतिबद्ध है. भारत सरकार की सभी योजनाओं के केंद्र बिंदु में गरीब है. 
 
 
PM ने कहा कि यह देश 125 करोड़ की आबादी वाला है. इस जवानी वाले देश के सपने और संकल्प भी जवान होने चाहिए. PM मोदी ने कहा कि लोकतंत्र के लिए राजनीति का सम्मान लौटाना जरूरी है. हमें राजनीति में दोबारा सम्मान लाना होगा. आजादी के बाद राजनीति में गिरावट आई. कुछ लोगों के कारण राजनीति के स्तर में गिरावट आई. 
 
 
PM मोदी ने कहा कि बापू महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर को भारत पेरिस में कान्फ्रेंस आफ पार्टीज में हुए निर्णयों का अप्रूवल करेगा. दुनिया ने माना, पर्यावरण रक्षा में भारत सबसे आगे है. गांधी जी ने पर्यावरण में अनफॉरगेटेबल योगदान दिया. हमारी सरकार समाज के आखिरी व्यक्ति के कल्याण को प्रतिबद्ध है.