नई दिल्ली. फर्जी कंपनियों के जरिए काले धन को विदेश में भेजने वाले भारतीयों की फिर से शामत आ सकती है. पनामा पेपर्स लीक्स के बाद अब बाहामास लीक्स का मामला सामने आया है. बाहामास लीक्स में भारतीयों से संबंधित कुल 475 फाइल्स सामने आने का दावा किया जा रहा है. बाहामास लीक्स में देश भर के कई क्षेत्रों से जुड़ी हस्तियों के नाम इसमें लिए जा रहे हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्स्प्रेस की खबर के अनुसार बाहामास लीक्स में बाहामास में रजिस्टर्ड 1 लाख 75 हजार से ज्यादा कंपनियों, ट्रस्ट्स और फाउंडेशन्स की जानकारी लीक हुई है. बताया जा रहा है कि ये दस्तावेज 1990 और 2016 के बीच में रजिस्टर्ड कराई गई कंपनियों से संबंधित हैं. 
 
बाहामास लीक्स में कई ऐसे लोगों के नाम भी शामिल हैं, जिनके नाम पनामा पेपर्स लीक्स में आ चुके हैं. बता दें कि बाहामास लीक्स का बम ऐसे समय पर फूटा है जब भारत सरकार ने ब्लैक मनी को 45 प्रतिशत टैक्स देकर वाहइट मनी में कंवर्ट करने का रास्ता दिखा दिया है. इस योजना के तहत 30 सितंबर तक अपनी अघोषित आय को घोषित किया जा सकता हैं.