नई दिल्ली. नेस्ले ने देशभर की 39 जगहों पर 550 टन मैगी नूडल्स को नष्ट करने के लिए कोर्ट से इजाजत मांगी है. गुरुवार को मामले की सुनवाई के दौरान जस्टिस दीपक मिश्रा ने फूड सेफ्टी स्टेंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया से पूछा 550 टन मैगी अपनी उम्र पूरी कर चुके है और वो अब एक्सपायरी हो गए है ऐसे में क्या उन्होंने नष्ट करने की इजाज़त दी सकती है या नहीं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जिसके जवाब में फूड सेफ्टी स्टेंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने कहा कि अगर इनको नष्ट करने की इजाजत दी गई तो सबूत नष्ट हो सकते है. तब कोर्ट ने कहा इनमें से अगर आप चाहे तो कुछ सैम्पल रख सकते है. हालांकि अथॉरिटी की तरफ से कहा गया कि वो इस मामले में अटॉर्नी जनरल से सलाह कर अपना जवाब कोर्ट में देंगे.
 
इस मामले की अगली सुनवाई 30 सितंबर को होगी. नेस्ले ने अपनी याचिका में कहा है कि 2015 में ये नूडल्स वापस लिए गए थे जो अब बेकार हो चुके है.इसलिए इन्हें नष्ट करना जरूरी है नहीं तो ये लोगों के स्वास्थ्य के लिए खतरा बन सकते हैं.