नई दिल्ली. कश्मीर के उरी में सेना के कैंप पर हमले के बाद सरकार के बैठकों का दौर जारी है. पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सीमावर्ती इलाकों में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की उसके बाद पीएम मोदी के आवास पर भी बैठक हुई. बैठक में गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल उपस्थित थे. 
 
ख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बैठक में सभी रणनीतियों पर चर्चा हुई. सेना प्रमुख ने पीएम को बताया कि सेना किसी भी कार्रवाई के लिए तैयार है. बैठक में एनएसए, आईबी चीफ, डीजीएमओ, गृह सचिव और रक्षा सचिव सभी मौजूद थे. इससे पहले, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने उरी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. सरकार ने दो टूक शब्दों में कहा है कि हमले में पाकिस्तान का हाथ होने के पुख्ता सबूत हैं और सोच समझकर ही कोई कार्रवाई की जाएगी.
 
रविवार को उरी में हुआ था हमला
बता दें कि रविवार की सुबह चार आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में सेना के कैंप पर हमला किया था. हमले में 20 सैनिक शहीद हो गए और 22 घायल हुए. घायलों में दो की हालत गंभीर बताई जा रही है. चारों आतंकियों को मार गिराया गया है. सूत्रों से पता चला है कि कुल 16 आतंकियों ने भारत की सीमा में घुसपैठ किया था. ये चार-चार के गुट में बंट गए थे. एक ग्रुप पूंछ की तरफ गया था दूसरा ग्रुप श्रीनगर की तरफ गया था.