उरी. जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में सेना के बेस पर हुए आतंकी हमले में 17 जवान शहीद हो गए हैं. मिली जानकारी के अनुसार शहीद जवानों में 2 डोगरा रेजिमेंट और 15 बिहार रेजिमेंट के हैं. बिहार रेजिमेंट के शहीद 15 जवानों में से 6 बिहार के रहने वाले हैं. वहीं इस घटना में शामिल चार आतंकियों को सेना के जवानों ने मार गिराया है. 
 
ख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
 
सैन्य अभियान के महानिदेशक (DGMO) रणबीर सिंह ने दावा किया है कि ने दावा किया है कि मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के थे और साथ ही आतंकियों के पास से पाकिस्तान का भी सामान बरामद किया गया है. उन्होंने कहा कि इस मामले पर पाकिस्तान के डीजीएमओ से भी बात की जा रही है. 
 
 
रणबीर सिंह ने आगे कहा कि करीब 13-14 जवानों की मौत टैंट में आग लगने की वजह से भी हुई है. आतंकवादियों की अंधाधुंध फायरिंग की वजह से सेना के कैंप में बने सेल्टर में आग लग गई थी.  बता दें कि मारे गए आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद मिला और 4 एके राइफल भी बरामद की गई.
 
 
बता दें कि रविवार सुबह करीब 5.30 बजे 4 आतंकी ने LOC में तार काटकर जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर स्थित आर्मी हेडक्वॉर्टर पर हमला किया था. जवाब में सेना ने मोर्चा संभाला. दोनों ओर से करीब चार घंटे गोलीबारी हुई. हमले में 17 जवान शहीद हो गए हैं और 4 आतंकियों को मार गिराया गया है. 18 जवानों के घायल होने की खबर है.