पटना. बिहार के पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या की जांच का जिम्मा सीबीआई को सौंपा गया है. हत्याकांड की जांच के सिलसिले में सीबीआई जल्द ही सीवान के लिए रवाना होगी. इसकी घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जनता दरबार में इसकी घोषणा की. सीबीआई जांच से बिहार के बाहुबली नेता शहाबुद्दीन की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. बता दें कि 13 मई को सीवान में पत्रकार की हत्या हुई थी. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
नीतीश ने कहा कि पत्रकार का परिवार लगातार मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहा था, हमने केंद्र सरकार को इस बारे में अवगत कराया और हमें सीबीआई जांच की मंजूरी मिल गई. नीतीश ने कहा कि राजदेव और आदित्य की हत्या का दुख मुझे भी उतना है जितना उनके परिवार वालों को है. उन्होने कहा कि पत्रकार के उपर हुआ हमला ऐसा है जैसे हमला मेरे उपर हुआ है.
 
 
बता दें कि पत्रकार रंजन हत्याकांड में मोहम्मद कैफ शहाबुद्दीन का शार्प शूटर माना जाता है जो शहाबुद्दीन के जेल से निकलने के बाद से ही उनके साथ मौजूद था. मोहम्द कैफ पिछले कई महीने से पुलिस की नजरों में फरार चल रहा है. लेकिन पुलिस शाहबुद्दीन के तैनात रहने के बाद कुछ नहीं कर पाई. इसको लेकर विपक्ष ने नीतीश सरकार पर हमला बोला और लालू यादव के बेटे और बिहार के स्वास्थ मंत्री तेज प्रताप की बर्खास्तगी की मांग की है.