श्रीनगर. घाटी में आज बकरीद है, इस मौके किसी भी प्रकार की हिंसा को रोकने के लिए कश्मीर के सभी 10 ज़िलों में कर्फ्यू लगा हुआ है. साथ ही सुरक्षाबल हैलीकॉप्टर और ड्रोन से हालात पर नज़र रख रहे हैं. राज्य सरकार ने एतिहातन इंटरनेट सेवाएं अगले 72 घंटे तक बंद करवा दी हैं. आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद से घाटी में पिछले दो महीनों में अब तक 70 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सरकारी सूत्रों के अनुसार सेना से तैयार रहने के लिए कहा गया है और अगर घाटी में हिंसा होती है तो सेना मोर्चा संभालेगी. सोमवार की मध्यरात्रि से कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बड़ी संख्या में लोगों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध लगाने का फैसला सोमवार को संयुक्त राष्ट्र के स्थानीय कार्यालयों तक अलगाववादियों के मार्च के आह्वान को ध्यान में रखकर किया गया है.
 
कश्मीर में वर्ष 1990 के बाद यह पहली बार है जब ईद के मौके पर कर्फ्यू लगाया जाएगा. सूत्रों ने कहा कि हेलीकॉप्टर और ड्रोन आसमान से पैनी नजर रखेंगे और कुछ क्षेत्रों में लोगों के एकत्रित होने की स्थिति में सुरक्षाबलों को पूर्व चेतावनी देंगे.