अहमदाबाद : पूरी दुनिया में धूम मचा रहे मोबाइल गेम ‘पोकेमोन गो’ के खिलाफ गुजरात हाइकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है जिसमें कहा गया है कि इससे लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत हो रही हैं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मिली जानकारी के मुताबिक याचिका में कहा गया है कि इस गेम में कुछ पूजा स्थलों पर अंडों को दिखाया जाता है. जो एक समुदाय की भावनाओं का आहत करता है. 

याचिकाकर्ता के मुताबिक अंडा मांसाहार की श्रेणी में आता है और अंडे को हिंदू और जैनियों के पूजास्थल में ले जाना धर्म के खिलाफ है. इस आधार पर ‘पोकेमोन गो’ पर देश में प्रतिबंध लगना चाहिए.  
 

बता दें कि यह याचिका अलय अनिल दवे की ओर से दाखिल की गई. जिसकी सुनवाई हाइकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश आर सुभाष रेड्डी और जस्टिस विपुल पंचोली की बेंच में की होगी.
 
क्या है ‘पोकेमैन गो’
पोकेमैन गो मोबाइल में खेला जाने वाले एक वीडियो गेम है. यह एक रियल्टी गेम है. हालांकि भारत में अभी तक इसकी आधिकारिक लॉन्चिंग नहीं हुई.

अमेरिकी और जापानी वर्जन को डाउनलोड कर भारत में इस्तेमाल किया जा रहा है. माना जा रहा है सुरक्षा वजहों से इसको भारत में लॉन्च नहीं किया गया है. 
 

इसके अलावा रूस सहित कई देशों में इसके यूजरों के खिलाफ कड़े नियम बना दिए गए हैं.