नई दिल्ली. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) को राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा मिल गया है. इसके साथ ही टीएमसी देश की सातवीं राष्ट्रीय पार्टी बन गई है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इससे पहले टीएमसी को असम, बिहार झारखंड और बंगाल, मणिपुर, त्रिपुरा और अरुणाचल प्रदेश में राज्य पार्टी का दर्जा प्राप्त है. ममता बनर्जी की पार्टी अब देश की अन्य राष्ट्रीय पार्टियों की फेहरिस्त में शामिल हो गई है. अब देश में राष्ट्रीय पार्टियों की संख्या 7 हो गई है जिनमें केंद्र में सत्तारुढ बीजेपी, कांग्रेस, सीपीएम, सीपीआई, एनसीपी और बीएसपी शामिल हैं.
 
राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा मिलने के बाद पार्टी को सरकार की ओर से ऑफिस बनाने के लिए जगह दी जाती है. ऐसी पार्टियां चुनाव में 20 स्टार प्रचारकों को रख सकती हैं. साथ ही पार्टी के चुनाव चिन्ह का इस्तेमाल कोई अन्य पार्टी नहीं कर सकती है.
 
बसपा, भाकपा और राकांपा को है खतरा
बता दें कि एक ओर जहां टीएमसी को राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल हुआ है, वहीं दूसरी ओर बसपा, भाकपा और राकांपा का राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा छीना भी जा सकता है, क्योंकि 2014 के लोकसभा चुनाव में इन पार्टियों का प्रदर्शन बेहद ही खराब रहा है.