नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार सुबह 11 बजे रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ की शुरुआत हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को याद करने के साथ की. इस कार्यक्रम के 23वां संस्करण में पीएम का पूरा फोकस खेलों पर रहा. इस मौके पर पीएम ने कहा कि 26 अगस्त को हॉकी के जादूगर ध्यानचंद जी की जन्मतिथि है, यह दिन राष्ट्रीय खेल दिवस के रुप में मनाया जाता है. मैं ध्यानचंद जी को श्रद्धांजलि देता हूं और इस अवसर पर आप सभी को उनके योगदान की याद भी दिलाना चाहता हूं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि रियो ओलंपिक में साक्षी, सिंधू ने साबित कर दिया कि हमारी बेटियां किसी भी तरह से, किसी से भी कम नहीं हैं. साथ ही पीएम ने कहा कि इस बात से तो इंकार नहीं किया जा सकता कि हमारी आशा के अनुरूप हम रियो ओलंपिक में प्रदर्शन नहीं कर पाए. फिर भी हमारे देश ने कई खेलों में शानदार प्रदर्शन किया और सकारात्मक माहौल बनाया. मैंने खेल प्रदर्शन में सुधार को लिए एक कमिटी की घोषणा की है.
 
प्रधानमंत्री ने सिंधू के कोच की तारीफ करते हुए कहा कि मैं आज पुलेला गोपीचंद जी को एक खिलाड़ी से अतिरिक्त एक उत्तम शिक्षक के रूप में देख रहा हूं.