नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पाक अधिकृत कश्मीर (POK), बलूचिस्तान और गिलकिट-बालटिस्तान के मुद्दे पर दिए गए बयान पर मुंबई आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड और आतंकवादी संगठन जमात उल दावा का प्रमुख हाफिज सईद बौखला गया है. भारत की तरफ से बलूचिस्तान का जिक्र होने के बाद सईद ने मुंबई को देश से अलग करने की धमकी दी है.
 
क्या कहा हाफिज सईद ने ?
हाफिज सईद ने कहा है कि पूरी दुनिया के सामने मोदी ने POK, बलूचिस्तान और गिलकिट-बालटिस्तान, को आजाद करवाने की बात कही है. ऐसे में मुत्ताहिदा महाज सिंध का चैयरमेन अगर कहता है कि भारत के कब्जे वाले मुंबई, सिंध का इलाका आजाद करवाना है, तो हम भी दुनिया के सामने यह बात करें. आतंकी सईद ने कहा कि इस्लामाबाद वाले में बैठे लोग खामोश है जबकि उन्हें मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए था. सईद ने इस मसले पर आंदोलन करने की बात कही है. बता दें कि इससे पहले भी हाफिज ने पाकिस्तानी आर्मी चीफ राहिल शरीफ से कश्मीर में सेना भेजने की पेशकश कर चुका है.
 
 
क्या कहा था PM मोदी ने
PM मोदी ने कश्मीर मामले पर आयोजित सर्वदलीय बैठक में पाकिस्तान को करारा संदेश देते हुए कहा कि PoK भी भारत के जम्मू-कश्मीर का हिस्सा है. PoK और बलूचिस्तान में वहां के सुरक्षाबलों द्वारा लोगों पर किए जा रहे अत्याचारों को दुनिया के सामने लाने की जरूरत है. 
 
 
बलूचिस्तान और गिलगित-बाल्टिस्तान पर PM मोदी के बयान के खिलाफ दिए बयान के खिलाफ पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की असेंबली में प्रस्ताव पास हुआ है. यह प्रस्ताव सर्वसम्मति से पास किया गिया है. प्रस्ताव में कहा गया है कि PM मोदी के बलूचिस्तान और गिलगित-बाल्टिस्तान पर दिए उनके बयानों की यह सदन कड़े शब्दों में निंदा करता है. पंजाब के कानून मंत्री राणा सनाउल्लाह ने मोदी के खिलाफ प्रस्ताव पेश किया.