नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में पुलिस ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को रिहा कर दिया है. सिसोदिया के साथ गिरफ्तार हुए 52 आप विधायकों को भी पुलिस ने छोड़ दिया है. बता दें कि रविवार की सुबह पुलिस ने 7आरसीआर स्थित पीएम आवास में सरेंडर करने जा रहे उपमुख्यमंत्री और आप विधायकों को तुगलक रोड से गिरफ्तार कर लिया था.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सिसोदिया ने पीएम आवास जाकर सरेंडर करने का ऐलान ट्वीट करके किया था. उनके खिलाफ गाजीपुर थाने में फल एवं सब्जी मंडी के प्रधान और अन्य लोगों द्वारा शिकायत दर्ज की गई थी. शिकायत में आरोप था कि उपमुख्यमंत्री ने कारोबारियों को धमकाया था. इस मामले पर पार्टी का मानना है कि पीएमओ के इशारे पर फर्जी मामलों में पुलिस द्वारा विधायकों को परेशान किया जा रहा है.
 
 
सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा था कि मोदी जी आपकी दुश्मनी हमसे है, हमें गिरफ्तार करलो लेकिन दिल्ली वालों के काम को मत रोको.
 
मनीष सिसोदिया ने शनिवार को ट्वीट कर बताया था कि वह दिल्ली के गाजीपुर इलाके में सरप्राइज इंस्पेक्शन के लिए गए थे, उस वक्त उन्होंने कुछ अवैध कारोबार चला रहे लोगों को देखा. अवैध कारोबार चला रहे कुछ लोगों ने उनके खिलाफ धमकी देने की शिकायत करा दी.
 
इसके अलावा उपमुख्यमंत्री ने मोदी पर नाराजगी जताते हुए ट्वीट किया था कि मुझे यकीन है कि मोदी जी कल इस शिकायत को मेरे खिलाफ रंगदारी, हिंसा, लड़की छेड़ने जैसे आरोपों में बदलवाकर मुझे भी गिरफ्तार करने का इंतज़ाम कर लेंगे.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
केजरीवाल ने किया था ऐलान
 
सिसोदिया के खिलाफ शिकायत पर केजरीवाल ने भी ट्वीट कर कहा था कि राज्य के उपमुख्यमंत्री आज पीएम आवास पर जाकर सरेंडर करेंगे.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App