नई दिल्ली. देश के 6 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में अगले शैक्षिक सत्र से योग विभाग शुरू हो जाएगा. केंद्रीय मानव संसाधन और विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने इसकी घोषणा की. स्मृति ईरानी ने योग पर राष्ट्रीय सेमिनार में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि 2016-17 में नये या नये सिरे से संवारे गए योग विभाग शुरू करने का फैसला किया गया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
देश की सभी 41 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में भी योग विभाग जल्द से जल्द शुरू करने की योजना है. इसके साथ ही योगिक कोर्स के लिए नेशनल एलीजिबिलिटी टेस्ट की शुरुआत करने के लिए भी यूजीसी तेजी से काम कर रहा है. उनका कहना है कि एक साल के अंदर इनकी संख्या 20 हो जाएगी.
 
स्मृति ईरानी ने कहा कि काफी समय से योग विज्ञान को हाई एजुकेशन सिलेबस का हिस्सा बनाने की बात चल रही थी. इसके लिए जनवरी में प्रो. नागेंद्र की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया था, जिसका उद्देश्य विश्वविद्यालयों में योग के कोर्स , डिग्री, सिलेबस, शिक्षक योग्यता पर पूरी रिपोर्ट तैयार करना था. हाल ही में ये रिपोर्ट मंत्रालय को सौंपी गई है. इसी के आधार पर 6 विश्वविद्यालयों में योग की पोस्ट और अंडर ग्रेजुएट कोर्स की शुरुआत की जा रही है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
पहले फेज में हेमवती बहुगुणा गढ़वाल यूनिवर्सिटी (उत्तराखंड), विश्व भारती (पश्चिम बंगाल), केरल केंद्रीय विश्वविद्यालय (केरल) राजस्थान विश्वविद्यालय, मणिपुर विश्वविद्यालय और इंदिरा गांधी जनजाति विश्वविद्यालय (मध्य प्रदेश) में योग विभाग खोले जाएंगे.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App