पीलीभीत.  यूपी की पीलीभीत जिले के करेली गांव में 20 साल की एक गर्भवती महिला पूनम सिंह को उसके पति और ससुराल वालों ने शुक्रवार को जिंदा जला दिया. महिला पांच माह की गर्भवती थी और आरोप है कि ससुराल वालों ने दहेज के लिए उसे जला डाला.शिकायतकर्ता पीड़िता के भाई अनुज ने शिकायत के दौरान बिलसंडा पुलिस थाने में कहा कि उसकी बहन को लगातार उसके ससुराल में पीड़ित किया जाता था. उन्होंने बताया कि हमने इसी साल पूनम की शादी संजू सिंह से की थी. हमने उसे दहेज में घर का सामान और कैश दिया था लेकिन वे शादी के बाद बार बार बाइक देने की मांग कर रहे थे और इसके लिए पूनम पर दबाव बना रहे थे. हमने उन्हें कई बार समझाने की कोशिश कि हम नई बाइक खरीद पाने की हैसियत नहीं रखते लेकिन वे लोग समझने को तैयार नहीं थे.

अनुज ने बताया कि गुरुवार को हमारे पास पूनम का फोन आया, वह बुरी तरह रो रही थी, उसके पति और ससुराल वालों ने उसके साथ मारपीट की थी. लेकिन गुरुवार को उसके पड़ोसी ने फोन कर बताया कि उसे जिंदा जला दिया गया है. मुझे अपने कानों पर यकीन नहीं हुआ. मैं उसके घर पहुंचा जहां उसका शव पड़ा था.

पूनम के पति संजू सिंह, ससुर अजय पाल सिंह और सास नन्हीं देवी के खिलाफ आईपीसी की धारा 498-A के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. इसके अलावा सेक्शन 3 और 4 के तहत उनपर डाउरी प्रोहिबिशन एक्ट भी लगाया गया है.

दिल्लीः मनहूस मान मां ने सात माह की बेटी को गला घोंटकर मार डाला

प्रेमी संग मिलकर युवती ने रची खुद की हत्या की साजिश, दहेज मामले में ससुराल वालों को पहुंचाया जेल