श्रीनगर. देश में में चढ़ते पारे के साथ जम्मू-कश्मीर के जंगलों में पिछले एक महीने से लगी आग ने और भीषण रूप ले लिया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक राजौरी और रियासी के जंगलों में लगी आग बेकाबू हो गई है. कहीं पर दो दिन से तो कहीं पर तीन दिन से लगी आग में करोड़ों रुपए की वन संपदा जलकर राख हो गई है. जंगलों में आग लगने से जम्मू, राजौरी व पुंछ आने-जाने वाले लोगों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
आग पर काबू पाने में नाकाम
बता दें कि राजौरी जिले में तो करीब 1200 हेक्टेअर जंगल आग की चपेट में हैं. इसके अलावा बाबा गुलाम शाह बडशाह यूनिवर्सिटी से सटे जंगलों में जहां भीषण आग लगी हुई है. आग ने बाबा चरनोट की पहाड़ियों को भी अपनी चपेट में ले लिया और चीड़ के हजारों पेड़ सहित अन्य पेड़-पौधे जलकर नष्ट हो गए. प्रशासन की काफी कोशिशों के बाद भी यहां अब तक आग पर काबू नहीं पाया गया है.
 
लोगों की अपील
वहीं जंगलों में भीषण आग को देखकर लोगों ने वन विभाग से इस पर शीघ्र काबू पाने की अपील की है. लोगों को कहना है कि अगर वन कर्मियों ने जल्द आग पर काबू नहीं पाया तो वह पास में मौजूद घरों को भी अपनी चपेट में ले लेगी.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App