नई दिल्ली. भारत सरकार अंतराष्ट्रीय योग दिवस से पहले योग में रुची रखने वाले दुनियाभर के विदेशी नागरिकों के लिए टूरिस्ट वीजा देगी. सरकार का यह फैसला योग को बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है. सरकार ने शॉर्ट टर्म योग कैंप यानी अल्पावधि योग पाठ्यक्रम के लिए आने वाले विदेशी नागरिकों को पर्यटन और ई-पर्यटन वीजा देने का निर्णय किया है. आगामी 21 जून को योग दिवस है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
आवेदन पत्र में जोड़ा गया नया कॉलम
अब तक सिर्फ भारत के अस्पतालों में इलाज कराने के लिए शॉर्ट टर्म वीजा दिया जाता रहा है. जबकि अब योग के जरिए इलाज कराने को लेकर भी अल्पावधि वीजा दिया जाएगा. इसके लिए 150 देशों के साथ चल रहे ई-वीजा के आवेदन में योग का भी कॉलम जोड़ा गया.
 
योग प्रसार और महत्व के लिए टूरिस्ट वीजा
गृह मंत्रालय ने एक बयान जारी करके कहा है कि दुनिया भर में योग के प्रसार और महत्व को महसूस करते हुए सरकार ने टूरिस्ट वीजा के तहत इजाजत योग्य गतिविधियों की सूची में संक्षिप्त योग कार्यक्रम में भागीदारी को भी शामिल कर लिया है.
 
टूरिस्ट वीजा से योग की हसरत पूरी करेंगे सैलानी
अब तक टूरिस्ट वीजा के तहत मनोरंजन, प्रकृति-पर्यटन, दोस्तों-रिश्तेदारों से मुलाकात, इलाज और हल्के-फुल्के कारोबारी दौरों की ही इजाजत है. लेकिन अब विदेशी सैलानी भारत आकर योग की हसरत भी पूरी कर सकेंगे. अपने इस योग प्रेम को सरकार ने अब एक और नीतिगत पहल से जोड़ा है. टूरिस्ट वीजा में जिन बातों की इजाजत है, उसमें अब योग भी शामिल किया जा रहा है.
 
योग दिवस 21 जून को, आयोजन चंडीगढ़ में
वैसे इस साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस चंडीगढ़ में मनाया जा रहा है. माना जा रहा है कि इस बार 50 हजार लोग इसमें भाग लेंगे. चंडीगढ़ कापीटोल बिल्डिंग में इसकी तैयरियां जोरशोर से चल रही हैं. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि “पिछली बार योगा मैट जो थे, उन पर मेड इन चाइना लिखा हुआ था. इस बार हम सब कुछ मेड इन इंडिया चाहते हैं.”
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App