नई दिल्ली. पाकिस्तान-चीन कॉरीडोर पर भारत ने एक बार फिर कड़ी आपत्ति जताई है. भारत ने पाक और चीन को जवाब देते हुए दो टुक कह दिया कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. गुरुवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के गैरकानूनी कब्जे वाले हिस्से में पाकिस्तान कॉरिडोर नहीं बना सकता है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों से बात करते वक्त विकास स्वरूप ने कहा, ‘पाकिस्तान के जिस हिस्से में चीन-पाक इकोनॉमिक कॉरिडोर का निर्माण किया जा रहा है, वह हिस्सा भारत के अंतर्गत आता है, ये नहीं बनना चाहिए.’
 
विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन के उस बयान को भी खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने कश्मीर को भारत पाक के बीच तनाव का मुख्य मुद्दा बताया था.
 
मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘कश्मीर तनाव का मुख्य कारण नहीं है. बल्कि तनाव का मुख्य कारण वहां शांति की कमी और निरंतर अस्थिरता बनाए रखने के लिए विदेश प्रायोजित आतंकवाद और भारत के आंतरिक मसलों में पाकिस्तान के हस्तक्षेप है.’
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App