कोलकाता. तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने शुक्रवार को लगातार दूसरी बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. ममता के साथ पार्टी के 41 विधायक मंत्रियों ने उनके साथ शपथ ली.  इनमें से 17 नए चेहरे भी थे. ममता बनर्जी को सीएम पद की शपथ राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने दिलाई. जहां ममता ने बांग्‍ला में शपथ गृहण की वहीं कुछ मंत्री हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, नेपाली और संथाली भाषा में शपथ लीं. 
 
मालदा से कोई चेहरा नहीं
ममता ने कहा कि मैंने माननीय राज्यपाल को सूची सौंपी. मुझे मिलाकर कुल 42 लोग शपथ ग्रहण समारोह में शपथ लेंगे. मालदा को छोड़कर सभी जिलों, जाति, धर्म को प्रतिनिधित्व दिया गया है. मालदा में हमारा कोई प्रतिनिधित्व नहीं है. इन 42 लोगों में कुछ नए चेहरे हैं. बाकी पुराने हैं. 
 
कई बड़े चेहरे हुए शामिल
शपथ ग्रहण समारोह में राजनीति के कई बड़े चेहरे मौजूद थे, जिनमें दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, बिहार के सीएम नीतीश कुमार और आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव शामिल हैं. वित्तमंत्री अरुण जेटली ने भी इस कार्यक्रम में शिरकत की. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव, फारुख अब्दुल्ला भी पहुंचे. 
 
हसीना ने तोहफे में भेजी 20 किलो हिल्सा
निमंत्रण के बावजूद अपनी व्यस्तता के कारण बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ममता बनर्जी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हो पायेंगी. इसके बावजूद उनका भेजा उपहार समारोह से एक दिन पहले ही कोलकाता पहुंच चुका है. बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने ममता बनर्जी को उपहार के रूप में 20 किलो हिल्सा मछली भेजा है, जिसे उनके प्रतिनिधि  मुख्यमंत्री के हवाले कर देंगे. 
 
मंत्रिमंडल के नए चेहरे
राज्य मंत्रिमंडल में शामिल होने जा रहे नए चेहरों में पूर्व भारतीय क्रिकेटर लक्ष्‍मी रतन शुक्ला, सोवनदेब चट्टोपाध्याय, कोलकाता के मेयर सोवन चटर्जी, अबनी मोहन जोरदर, अब्दुर्रज्जाक मुल्ला, सुवेंदु अधिकारी, रवींद्रनाथ घोष, चामूमनि महतो, जेम्स कुजुर, सिद्दिकुल्ला चौधरी, आसिमा पात्रा आदि हैं. मंत्रियों के विभाग अभी तय नहीं किए गए हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App