नई दिल्ली. केंद्रीय सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत ने केंद्र में मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर कहा है कि सरकार ने दलितों के उत्पीड़न संबंधित कानून को कड़ा किया है. इंडिया न्यूज़ को दिए अपने इंटरव्यू में गहलोत ने यह बात कही.
 
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार दलितों के विकास के लिए सरकार लगातार काम कर रही है. दलितों के अधिकारों की रक्षा के लिए ही सरकार ने दलित उत्पीड़न संबंधित कानून को कड़ा किया है. मोदी सरकार ने दलितों की उच्च शिक्षा के लिए राष्ट्रीय फेलोशिप शुरू की है. 
 
गहलोत ने कहा कि मोदी सरकार के दो साल पर सामाजिक न्याय मंत्रालय ने ऐतिहासिक उपलब्धियां हासिल की हैं. उन्होंने कहा कि दो साल में सरकार ने 1.5 लाख दलितों और आदिवासियों को स्वावलंबी बनाया है. सरकार के भविष्य के काम के बारे में बात करते हुए सामाजिक न्याय मंत्री ने कहा कि सरकार स्किल ट्रेनिंग देकर सफाईकर्मियों को मैला ढोने से आजाद कराने के लिए प्रतिबद्ध है.
 
हैदराबाद यूनिवर्सिटी में हुई रोहित वेमुला की घटना पर गहलोत ने कहा कि वेमुला की घटना को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया था. उन्होंने कहा, ‘वेमुला और समर्थकों ने याकुब मेमन का समर्थन किया था, जिसके बाद एबीवीपी के छात्रों ने विरोध किया था, जिस वजह से मारपीट की गई थी.’
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरी बातचीत

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App